list of dams of India Part 1 Download Now

• list of dams of India एक से अधिक उददर्शय की प्राप्ती के लिए था बहुत उदीय की पारती के लिए जो परियोजना चलाई जाती है, बहुउद्देशीय परियोजना कहलाती है।
• संयुक्त राज्य अमेरिका की टेनसी नदी घाटी परियोजना (विश्व की प्रथम नदी परियोजना) के आधार पर भारत में स्वतंत्रता । प्राप्ति के पश्चात सिंचाई की सुविद्या के विकास तथा जल विद्युत उत्पादन, मृदा संरक्षण, बाद नियंत्रण, पेय जल-व्यवस्था, मत्सय पालन आदि के उदरीय से नदी पाटी परियोजनाएँ बनाई गई एवं सुचारू रूप से क्रियान्वित की गई।

  • • उपर्युक्त प्रकार के अनेक लाभ देने के कारण ही इस परियोजना को बहुउद्देशीय परियोजना की संज्ञा दी गई।
  • • देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू ने इसको आधुनिक भारत का मंदिर तया तिर्थस्थल कहा है।
  • • बड़े- बड़े नदियों के उपर बाँध बनाकर परियोजनाएं चलाई जाती है।
list of dams of India

बहुउद्देशीय परियोजना

• बड़े-बड़े नदियों के उपर बाँधका निर्माण करने से बाज के पिरी जलाशय / झील का निर्माण हो जाता है। जो बहुत आकर्षक तथा मनमोहक होता है।

• चुकि बांध का निर्माण करने से बॉय के पिळे बहुत अधिक पानी का बडोराँव हो जाता है, जिसमें पानी की बहुलता होती हैं। कहने का तात्पर्य कि यह मानत के लिए तो बहुत उपयोगी हैं, परंतु अन्य जीव-जन्तु जो जंगलों में निवास करते। हैं, उनके लिए ये खतरे के समान है। उनका प्राकृतिक आवास नष्ट हो जाता है। List of dams of India Part 1 by Get know adventure

• पंजाब में सतलज नदी का पानी दो जगहों पर रोका गया है। भाखड़ा नामक स्थान पर तथा नांगल नामक स्थान पर, यानि पंजाब मे सतलज नदी के पानी को रोकने के लिए दो बॉध भाखड़ा तथा नांगल का निर्माण किया गया है। संयुक्त रूप से इसे भाखड़ा-नांगल बॉप कहा जाता हैं। List of dams of India Part 1 by Get know adventure

भारत की प्रमुख बहुउद्देशीय परियोजना list of dams of India

1. दामोदर पाटी परियोजना 14.कोयना परियोजना
2. भाखड़ा-नांगल परियोजना15.बगलिहार परियोजना
3.रिहन्द बॉब परियोजना16. किशनगंगा परियोजना
4. हीराकुंड बॉय परियोजना17.पोलावरम परियोजना
5. व्यास परियोजना18.पंचेश्वर ब. परियोजना
6.गंडक परियोजना19. बुनाखा परियोजना
7.कोसी परियोजना20. रेणुका बॉध परियोजना
8.इंदिरा गाँधी परियोजना21. किशाऊ परियोजना
9.चंबल परियोजना22. के न-बे तवा लिंक परियोज
10. नागार्जुन परियोजना23.सरदार सरोवर परियोजना
11.तुंगभद्रा परियोजना24. टिहरी परियोजना
12.मयूराक्षी परियोजना25.देवसारी बाँध परियोजना
13.शरावती परियोजना26. फरक्का बैराज परियोजना
List of dams of India Part 1 by Get know adventure

दामोदर घाटी परियोजना

नदी:- दामोदर नदी पर

लाभान्वित राज्य 🙂 पश्चिम बंगाल व झारखंड

उद्देश्य :- विद्युत उत्पादन , बाढ़ नियंत्रण व सिंचाई

दामोदर घाटी परियोजना के बारे में-(list of dams of India)

  • यह देश की प्रथम नदी पाटी परियोजना है।
  • मध्य भारत के छोटानागपुर (झारखंड ,पलाम जिला) से निकलने वाली दामोदर नदी अब झारखंड व पश्चिम बंगाल के लिए वरदान सिद्ध हुई हैं।
  • इस परियोजना की आधारशीला केन्द्र सरकार, बिहार व पश्चिम बंगाल सरकार के संयुक्त प्रयास से 1948 में रखी गई।
  • दामोदर नदी छोटानागपुर के पठार से निकलती और हुगली मै मिल जाती है। अर्थात हुगली की सहायक नदी है।
  • यह नदी दो राज्यों में बहती है – झारखंड और पश्चिम बंगाल
  • मानसून काल में वर्षा छोटा नागपुर के पठार पर होती है,लकिन waste bangles में बाढ़ का कारण बनती है, इसलिए इसे बंगाल का शोक कहा जाता है
  • इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए दामोदर घाटी निगम की स्थापना 1948 की गई।

List of dams of India Part 1 Download Now. The list is sorted by volume, and provides name, state, height and reservoir volume

get know adventure
  • बाँध – मैथन , तेलैया, पंचत हिल, मैथन ऐयर बर्मो, बोकारो, कोनार ,
  • तापीय विद्युत गृह -8
  • जल विद्युत गृह– 3
  • सहायंक नदी -कोनार ,बोकारो ,बराकर
तैलेया , कोनार , मैथन और पंर्चत बाँध तथा दुर्गापुर में “एक बड़ा बाँध (अवरोधक ) इसी परियोजना के अतर्गत निर्मित किए गए हैं। तिलैया डैम , कोनार , मैथन और पंर्चत बाँध तथा दुर्गापुर में “एक बड़ा बाँध (अवरोधक ) इसी परियोजना के अतर्गत निर्मित किए गए हैं।
  • तिलैया डैम , कोनार , मैथन और पंर्चत बाँध तथा दुर्गापुर में “एक बड़ा बाँध (अवरोधक ) इसी परियोजना के अतर्गत निर्मित किए गए हैं।
  • तिलैया डैम→ बराकर नदी पर (हजारीबाग जिला)
  • मैथन बांध →बराकर व दामोदर के संगम पर ..
  • कोनार बाँध→ कीनार नदी पर (बोकारो विद्युत संयंत्र)
  • पंर्चत बाँध→ मान भूमि जिले में
  • देश के कुल कोयला निक्ष्रेत्र का 60%, भाग दामोदर बेसिन में ही निहित है। रामगढ़, कर्णपुरा , बोकारो, रानीगंज कोयला क्ष्रेत्र इसी नदी घाटी में स्थित है।-List of dams of India Part 1 by Get know adventure

इसमें रानीगंज देश का सबसे बड़ा कोयला सैत्र व झरिया कोयला उत्पादन क्षेत्र है। झरिया कोयला क्षेत्र के महय से होकर ही दामोदर नदी गुजरती है

Our list of dams of India Part 1 is completely free for you to download today.

नीचे दिए गए चित्र से समझे

list of dams of India

भाखड़ा – नांगल परियोजना

  • नदी:- सतलज नदी पर
  • लाभान्वित राज्य :- पंजाब, हरियाणा व राजस्थान, H-P, दिल्ली •
  • उद्देश्य :- जल विद्युत उत्पादन एवं सिंचाई

भाखड़ा – नांगल परियोजना के बारे में जाने

इस बांध की योजना के लिए बातचीत 1944 में शुरू हुई और नवंबर 1944 में पंजाब के तत्कालीन राजस्व मंत्री श्री छोटू राम और बिलासपुर के राजा के बीच एक समझौता हुआ। इस परियोजना की योजना 8 जनवरी 1945 को पूरी हुई। इस बांध का प्रारंभिक निर्माण कार्य 1946 में शुरू हुआ और बांध का निर्माण 1948 में शुरू हुआ। 17 नवंबर 1955 को तत्कालीन प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू की उपस्थिति में, बांध का निर्माण कंक्रीट से शुरू हुआ।-List of dams of India Part 1 by Get know adventure

  • भाखड़ा – नांगल बाँध भुकंपिय क्षेत्र में स्थित विश्व का सबसे ऊँचा बाँध हैं
  • गुरूत्वीय बांध
  • यह एशिया का दुसरा बड़ा बांध हैं। जिसकी ऊंचाई 225.55 मीटर है
  • इससे ऊचां बाँध एक मात्र टिहरी बाँध में 261m है।
  • इस बाँध के पीछे बनी झील का नाम गोविंद सागर है, जो सिख्खो के 10वें गुरु गोविंद सिंह के नाम पर रखा गया हैं।
  • कुल विद्युत उत्पादन क्षमता – 1325 MIT

अधिक ज्ञान के लिए वीडियो देखे – List of dams of India Part 1 by Get know adventure

कोसी परियोजना

नदी:- कोसी नदी पर

लाभान्वित राज्य:- बिहार एवं नेपाल

उद्देश्य :- बाढ़ नियंत्रण, जल-विद्युत उत्पादन एवं सिंचाई

भारत एवं नेपाल की संयुक्त परियोजना है

• अंतरराष्ट्रीय परियोजना • बिहार का शोक

कोसी परियोजना के बारे में जाने

कोसी परियोजना कोसी नदी के पार एक नाला है जो नेपाल के सप्तरी जिले और सुनसारी जिले के बीच वाहनों, साइकिल और पैदल यातायात को ले जाता है। यह भारत के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास है। यह 1958 और 1962 के बीच बनाया गया था और इसमें 56 द्वार हैं

  • चीन की ह्यांगही नदी की भाती , कोसी नदी अपने मार्ग बदलने के लिए प्रसिद्ध हैं।
  • सन् 1954 में बिहार-नेपाल समझौते के अंतर्गत नेपाल तथा बिहार में निर्मित यह परियोजना केन्द्र सरकार (IND) ने इसका शिलानयास रखा।
  • इस परियोजना के अंतर्गत नेपाल के हनुमान नगर एवं विहार me चतरा के पास बाँध बनाएं गए हैं।-List of dams of India Part 1 by Get know adventure

जाने कोसी बाँध का इतिहास

कोसी नदी पर बांध बनाने का कार्य ब्रिटिश शासन के समय से ही विचाराधीन था। ब्रिटिश सरकार को चिंता थी कि कोसी पर एक तटबंध बनाने से यह अपने प्राकृतिक प्रवाह के कारण टूट सकता है। ब्रिटिश सरकार ने इस आधार पर तटबंध नहीं बनाने का फैसला किया कि तटबंध के टूटने से हुए नुकसान की भरपाई करना अधिक कठिन साबित होगा। [1] इसी चिंता के बीच ब्रिटिश शासन समाप्त हो गया और स्वतंत्रता के बाद 1954 में भारत सरकार ने नेपाल के साथ एक समझौता किया और बांध बनाया गया।

List of dams of India Part 1 Download Now. The list is sorted by volume, and provides name, state, height and reservoir volume

list of dams of India

यह बांध नेपाल की सीमा में बनाया गया था और इसके रखरखाव का काम भारतीय इंजीनियरों को सौंपा गया था। इसके बाद यह बांध अब तक सात बार टूट चुका है और नदी की धारा की दिशा में मामूली बदलाव आया है। बैराज में बालू जमा होने से जलस्तर बढ़ जाता है और बांध के टूटने का खतरा बना रहता है.-List of dams of India Part 1 by Get know adventure

हीराकुंड परियोजना

नदी :- महानदी पर

लाभान्वित राज्य– ओडिशा

उद्देश्य :-जल विद्युत एवं सिंचाई

ओड़िसा का शौक कहा जाता था।

हीराकुंड परियोजना बाँध का इतिहास

हीराकुंड बांध ओडिशा में महानदी नदी पर बना एक बांध है। यह संबलपुर से 15 किमी दूर है। महानदी पर 1957 में बना यह बांध दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे लंबा बांध हैइसकी कुल लंबाई 25.8 किमी है। इस बांध के पीछे एक विशाल जलाशय है जो एशिया की सबसे बड़ी कृत्रिम झील है

Railway ntpc important question in hindi-1

यह परियोजना भारत में शुरू की गई कुछ शुरुआती परियोजनाओं में से एक है। बाईं ओर लामडुंगरी पहाड़ी से चांडीली पहाड़ी तक 4.8 किमी दूर मुख्य बांध है। इसके दोनों ओर दो अवलोकन टावर हैं, गांधी मीनार और नेहरू मीनार। इसके जलाशय की तटरेखा 639 किमी लंबी है। इस बांध को बनाने के लिए इस्तेमाल की गई मिट्टी, कंक्रीट और अन्य सामग्री से कश्मीर से कन्याकुमारी और अमृतसर से डिब्रूगढ़ तक करीब आठ मीटर चौड़ी सड़क बन सकती थी। हीराकुंड झील एशिया की सबसे बड़ी मानव निर्मित झील है। इस बांध की लंबाई 4801 मीटर है, जिसमें 810 करोड़ क्यूबिक मीटर पानी जमा है। इसका उद्देश्य बाढ़ को नियंत्रित करना और बिजली पैदा करना है।

रिहन्द परियोजना

नदी :-रिहन्द नदी पर

लाभान्तित राज्य :- UP एवं मध्य प्रदेश

उद्देश्य :-सिंचाई एवं जल विद्युत

परिचय

  • यह UP की सबसे बड़ी परियोजना है। इसका निर्माण सोनभद्र जिले मैं पिपरी नामक स्थान पर सोन की सहायत, रिहंद पर हुआ है
  • रिहन्द, सोन की सहायक नदी हैं।
  • सोन नदी अमरकंटक की चोटी से निकलकर बिहार में गंगा नदी से मिल जाती हैं। रिहन्द नदी पर UP के मिर्जापुर जिले में बांध बनाया गया हैं। इस बाँध के पीछे गोविन्द बल्लभ पंत्र सागर एक झिल है List of dams of India Part 1 by Get know adventure

रिहन्द परियोजना बाँध का इतिहास list of dams of India Part 1 Download Now

रिहंद परियोजना, जिसके तहत रिहंद बांध और उससे जुड़े गोविंद बल्लभ पंत सागर नामक जलाशय का निर्माण किया गया था, भारत के उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश राज्यों की सीमा पर रिहंद नदी (रेणुका नदी)। एक नदी घाटी परियोजना स्थित है। रिहंद बांध उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के पिपरी शहर में स्थित है और गोविंद वल्लभ पंत सागर पिपरी पहाड़ों के बीच रिहंद नदी को बांधकर बनाया गया एक जलाशय है। 30 किमी लंबी और 15 किमी चौड़ी यह जलाशय भारत की सबसे बड़ी कृत्रिम झील है। रिहंद नदी सोन नदी का एक प्रमुख हिस्सा है। एक सहायक नदी है-List of dams of India Part 1 by Get know adventure

चम्बल परियोजना

नदी:- चंवल नदी पर

लाभान्वित राज्य– राजस्थान एवं मध्य प्रदेश
उद्देश्य :- जल-विद्युत, सिंचाई व मृदा संरक्षण

  • यह राजस्थान और MP की संयुक्त परियोजना है। थे चंबल गंगानदी नदी पर स्थित है।
  • चंबल नदी पर इस परियोजना र के अंतर्गत 3 बॉध एवं – 5 विद्युत गृह बनाए गए हैं।
  • चंबल नदी यमुना की सहायक नदी है जो विंध्य पर्वत चारपात पहाड़ी से निकलती है और UP के इटावा में आकर यमुना नदी में मिल जाती है-List of dams of India Part 1 by Get know adventure

परिचय

यह भारत की एक प्रमुख नदी घाटी परियोजना है। इसके तहत चंबल नदी पर तीन बांध बनाए गए हैं- गांधी सागर (मंदसौर), मध्य प्रदेश, राणा प्रताप सागर (रावतभाटा), चित्तौड़, जवाहर सागर बांध (बूंदी), कोटा बेराज (कोटा)। इस परियोजना से राजस्थान और मध्य प्रदेश में सिंचाई और मृदा संरक्षण हुआ है। इसकी सिंचाई क्षमता 5 लाख हेक्टेयर है। पनबिजली 386 मेगावाट है। चंबल परियोजना तीन चरणों में पूरी हुई 1 गांधी सागर बांध बिजली क्षमता 115mw 2 राणा प्रताप सागर बांध बिजली 172mw 3 जवाहर सागर बांध बिजली 99mw-List of dams of India Part 1 by Get know adventure

ब्यास परियोजना

नदी:-ब्यास नदी पर

लाभान्वित राज्य:-पंजाब, हरियाणा, राजस्थान

उद्देश्य :- जल विद्युत एवं सिंचाई

ब्यास परियोजना परियोजना के बारे में जाने

  • यह पंजाब, हरियाणा राजस्थान की संयुक्त परियोजना। यह पंजाब के कपूरचला में सतलज मे ब्यास नदी के संगम के उपर व्यास नदी पर स्थित हैं।
  • इस परियोजना के अंतर्गत दुनिया की सबसे लम्बी पूर्णत्या पक्की और ढली हुई राजस्थान नहर बनी हैं, जिसे इंदिरा नहर के नाम से भी जाना जाता हैं
  • इसी नहर की देन के कारण राजस्थान के उ०प०क्षेत्र (गंगानगर, बीकानेर, जैसलमेर) का भविष्य का अन्नभंडार कहा गया हैं। (List of dams of India Part 1 by Get know adventure)
  • इस परियोजना के अंतर्गत पौंग नामक स्थान पर ब्यास बॉध बनाया गया है, जिसे पौंग बॉध के नाम से भी जाना जाता हैं।
  • यह भारत की एक प्रमुख नदी घाटी परियोजना है (List of dams of India Part 1 by Get know adventure)
  • यह परियोजना 1961 में शुरू हुई और 1971 में समाप्त हुई।
  • यह परियोजना 3 राज्यों की साझेदारी परियोजना है
  • पंजाब, हरियाणा और राजस्थान।
  • इस परियोजना में दो बांध बनाए गए हैं। ब्यास नदी पर दो बांध बनाए गए हैं जो हैं –
  • 1) पोंग बांध (विद्युत उत्पादन क्षमता – 396 मेगावाट) – हिमाचल प्रदेश (कांगड़ा जिला)
  • 2) देहर बांध (विद्युत उत्पादन क्षमता – 990 मेगावाट) – हिमाचल प्रदेश (मंडी जिला)
  • 1986 में स्थापित एराडी आयोग इसी परियोजना से संबंधित है।
  • इस परियोजना से इंदिरा गांधी नहर परियोजना को पानी की आपूर्ति की जाती है।
  • (List of dams of India Part 1 by Get know adventure)
  • गंगा नदी) नागार्जुन सागर परियोजना नदी :- कृष्णा नदी पर लाभान्वित राज्य :-गुंटूर, आध्रप्रदेशउद्देश्य :- सिंचाई, जल विद्युत उत्पादन
  • यह भारत की प्रमुख नदी घाटी परियोजना है। आध्र प्रदेश के गुंटूर & तेलंगाना के नलगोंडा जिलों की सीमा पर नंदीकोड ग्राम के पास बनाया गया हैं।
    इसका निर्माण 1955 से 1964 के बीच हुआ था। यह भारत का सबसे ऊँचा लंबा बांध हैं। इस बाँध से निर्मित नागार्जुन सागर झील दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी मानव निर्मित झील है। 110MW की एक 100 की सात जलविद्युत गृह लगावी गयी है List of dams of India Part 1 by Get know adventure)

मयुराक्षी परियोजना

नदी :- मयुराक्षी नदी पर

लाभान्वित राज्य- पश्चिम बंगाल

उद्देश्य:-सिंचाई एवं विद्युत उत्पादन, भू-क्षरण नियंत्रण

  • मयुराक्षी नदी छोटा नागपुर के गंगानदी पठार से निकलकर झारखंड राज्य में प्रवाहित होती हुई, पश्चिम बंगाल मयुराक्षी में पहुंचकर हुगली नदी में विलिन हो जाती हैं।
  • इस नदी पर पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा 1955 में सिंचाई, विद्युत उत्पादन, भू-क्षरण नियंत्रण के उद्देश्य से निर्मित है।
  • (List of dams of India Part 1 by Get know adventure)

Which is the famous dam of India?

The Tehri Dam is located in the state of Uttarakhand.

Which is the Highest Dam in India?

Tehri Dam

What is Dam?

stop the water by building a dam

Leave a Comment

%d bloggers like this: